Wednesday, November 13, 2019

Benefits of chanting mantras







Benefits of chanting mantras


Mantra chanting is one of the ways that any type of problem can be overcome. In all the scriptures, mantras are described as very powerful and miraculous. That is, the desired thing can be achieved by mantras and all desires can be fulfilled. One of the most effective mantras is the Gayatri Mantra. Auspicious results can be obtained very quickly by chanting it. Its regular chanting can be foreseen.

 Gayatri Mantra


 Om Bhurbhuvah SawhTatsviturvarnayanam Bhargo Devasya Dheemihi Dhio yo nah Prachodayat.


 10 benefits of chanting this mantra


 If a person chants this mantra regularly, he gets enthusiasm and positivity, glows in the skin, hates vengeance, awakens interest in parmarth, starts anticipating, increases the power to bless, eyes. It comes fast, self-accomplishment is attained, anger is calmed, knowledge grows.

 Use of hymnology


 Mantra is used to attain devotion to God, Brahm Gyan. Also, chanting of mantras can also be done for worldly and material pleasures and desire to attain wealth.


              मंत्र जप के फायदे 


मंत्र जप, एक ऐसा उपाय है जिससे किसी भी प्रकार की समस्या को दूर किया जा सकता है। सभी शास्त्रों में मंत्रों को बहुत शक्तिशाली और चमत्कारी बताया है। यानी मंत्रों से मनचाही वस्तु प्राप्त की जा सकती है और सभी इच्छाओं की पूर्ति की जा सकती है। सबसे ज्यादा प्रभावी मंत्रों में से एक मंत्र है गायत्री मंत्र। इसके जप से बहुत जल्दी शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं। इसके नियमित जप से पूर्वाभास हो सकता है।

गायत्री मंत्र


ऊँ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि। धियो यो न: प्रचोदयात्।।


इस मंत्र के जप के 10 लाभ


यदि कोई व्यक्ति इस मंत्र का जप नियमित रूप से करता है तो उसे उत्साह एवं सकारात्मकता, त्वचा में चमक आती है, तामसिकता से घृणा होती है, परमार्थ में रुचि जागती है, पूर्वाभास होने लगता है, आशीर्वाद देने की शक्ति बढ़ती है, नेत्रों में तेज आता है, स्वप्र सिद्धि प्राप्त होती है, क्रोध शांत होता है, ज्ञान की वृद्धि होती है।

मंत्र विद्या का प्रयोग


मंत्र विद्या का प्रयोग भगवान की भक्ति, ब्रह्मज्ञान प्राप्ति के लिए किया जाता है। साथ ही, सांसारिक एवं भौतिक सुख-सुविधाओं, धन प्राप्त करने की इच्छा के लिए भी मंत्रों का जप किया जा सकता है।



No comments:

Post a Comment

Please do not comment indecently, take care of the dignity of the language, do not give any spam link comment box.

Vishnu ji had to raised Sudarshan Chakra when Shiva did Taandava.

Vishnu ji had to raised Sudarshan Chakra when Shiva did Taandava. Lord Vishnu is the preserver of this universe  and Lord Shiva is cons...

Blog's popular posts