Sunday, November 3, 2019

Lord Shiva teaches honoring spouse


Lord Shiva teaches honoring spouse


 In today's era, respect for women is highly discussed.  Everyone knows that if women are given a respectfully safe environment, they can do amazing things.  You will be surprised that Baba Mahadev was also the first person in the world to raise the empowerment of women.

 Bholenath felt so much love and dedication to his wife, that he made him half of his body with the power of yoga.  In this form, half God is Shiva and half mother Parvati.  Goddess Parvati is the superpower that made our nature.  The Ardhanarishwara form shows that superpower cannot be acquired without the combination of nature and man.  Shiva himself becomes corporeal in the separation of power.

 As a tribute to this love, respect and dedication of Lord Shiva, Mata Parvati appeared many times in the form of Durga as her fully powerful Adishakti and protected and nourished the whole world.




भगवान शिव सिखाते हैं जीवनसाथी का सम्मान करना

आज के युग में महिलाओं के सम्मान पर बेहद चर्चा होती है। सब जानते हैं कि महिलाओं को सम्मानपूर्वक सुरक्षित माहौल दिया जाए, तो वे अद्भुत कार्य कर सकती हैं। आपको आश्चर्य होगा,कि सृष्टि में सबसे पहले महिला सशक्तिकरण की अलख भी बाबा महादेव ने ही जगाई थी।

भोलेनाथ ने अपनी पत्नी से इतना प्रेम और समर्पण का भाव रखा, कि उन्हें योगबल से अपने आधे शरीर का हिस्सा बना लिया। इस रूप में आधे भगवान शिव हैं और आधे माता पार्वती। माता पार्वती ही महाशक्ति हैं जिससे हमारी प्रकृति बनी है। अर्धनारीश्वर रूप यह दर्शाता है कि प्रकृति और पुरुष के संयोग के बिना महाशक्ति अर्जित नहीं की जा सकती। स्वयं शिव भी शक्ति के वियोग में शव स्वरुप हो जाते हैं।

भगवान शिव के इसी प्रेम,सम्मान और समर्पण के प्रतिदान स्वरुप माता पार्वती कई बार अपने पूर्ण शक्तिशाली आदिशक्ति स्वरुप दुर्गा के रुप में प्रकट हुईं और समस्त संसार का रक्षण और पोषण किया



No comments:

Post a Comment

God, avatar and divine stories -2

God, avatar and divine stories -2 In the previous post of the blog, all of you learned about the Avatar and read some type of the avata...